विवाहिता व उसके बेटे को चरित्र हीनता का आरोप लगाकर घर से निकाला, सात पर प्राथमिकी दर्ज

विवाहिता व उसके बेटे को चरित्र हीनता का आरोप लगाकर घर से निकाला, सात पर प्राथमिकी दर्ज

बिहार बेतिया मैनाटांड़। स्वतंत्र इंडिया लाइव सेवन की रिपोर्ट

स्थानीय थाना क्षेत्र के एक गांव की एक महिला पर चरित्रहीनता का आरोप लगाकर महिला समेत उसके बेटे को उसके घर से मारपीट निकाल दिया गया है। साथी ही मैके से मिले लाखों रुपये का उपहार भी ससुराल वालों ने अपने पास रख लिया है। इस संबंध में पीड़िता के आवेदन पर सात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है। दर्ज प्राथमिकी पीड़िता ने बताया है कि मेरी शादी 9 मई 2011 को धूमधाम से लंगडी बास्ठा के राजू सहनी के साथ हुआ। शादी के बाद मुझे एक लड़का भी हुआ। उसके बाद मेरी ससुराल में ही मेरी ननद और उसके पति रहने लगे। जो मेरे सास-ससुर और पति को चढ़ाने लगे कि मेरा लड़का नाजायज संबंध का है। इस बात को लेकर मुझे रोज मारपीट किया जाता था साथ ही मेरे चार वर्षीय बेटे रौशन कुमार को भी गाली गलौज कर खाना नहीं दिया जाता था। जब मैं इसका विरोध की तो मेरे ससुराल वालों ने मुझे मारपीट कर मेरे बेटे रोशन कुमार के साथ मुझे घर से निकाल दिया। साथ ही मेरे मायके से मिले दो लाख दस हजार रुपये आभूषण और अन्य साम्रगी भी अपने पास रख लिया गया। मैं अपने ससुराल वालों के द्वारा घर से निकाल देने पर मैके घोघा मलाई टोला थाना गोपालपुर में रह रही हूँ। इस संबंध में मैनाटांड़ थानाध्यक्ष राम विनोद सिंह ने बताया कि पीड़िता के आवेदन पर पति राजू साहनी, ससुर भरत सहनी, सास उमावती देवी, ननद मीरा देवी, नंदोषी बिहारी सहनी, देवर अरविंद सहनी एवं लड्डू साहनी के विरुद्ध सुसंगत धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है। इस कांड के अनुसंधानकर्ता सअनि पंचरतन सिंह को बनाया गया है। कांड दर्ज कर मामले की छानबीन शुरु कर दी गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *