*डीएम ने डॉक्टरों को दिए सात टास्क*

*डीएम ने डॉक्टरों को दिए सात टास्क*

*बिहार मोतिहारी।* विगत पांच सालों से जिले के सरकारी अस्पतालों की चरमरायी चिकित्सीय व्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए डीएम रमण कुमार लगातार स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा से लेकर निरीक्षण कर रहे हैं।

इस दौरान उन्होंने शनिवार को सिविल सर्जन, सदर अस्पताल अधीक्षक सहित डाक्टरों के साथ बैठक की। बैठक में उन्होंने चिकित्सा प्रभारियों को सात टास्क दिये। दिये गये टास्क की अगले शनिवार को समीक्षा करने की बात कही।

*मरीज के हित में काम करें डाक्टर :* प्राप्त जानकारी के अनुसार लगातार चिकित्सीय व्यवस्था में आ रही गिरावट को लेकर डीएम काफी गंभीर हो गये हैं। उन्होंने साफ तौर पर डाक्टर सहित स्टाफ व सदर अस्पताल में कार्यरत आउट सोसिंर्ग सेवा करने वाले को निर्देश दिया है कि सरकारी नियम के अनुसार काम करें। मरीजों को मिलने वाली सुविधा में कर्मी होगी तो नपेंगे संबंधित डाक्टर व कर्मचारी। उन्होंने कहा कि मरीज के नाम पर कई सुविधाये सरकार ने दे रखी है मगर स्थिति यह है कि न तो समय पर डाक्टर आते हैं और न स्टाफ। लैब की स्थिति यह है कि कई प्रकार की जांच तक नहीं हो पाती है। आउट सोसिंर्ग वाले का काम भी संतोषप्रद नहीं है ,फिर भी राशि का उठाव कर लेते हैं। ऐसा ही आलम एम्बुलेंस सेवा की है। इसमें सुधार लाने की बात कही।
*डीएम ने दिया टास्क :* सभी सरकारी अस्पताल में सीसीटीवी कैमरा लगाने, डाक्टरों की रोस्टर ड्यूटी डिसप्ले की व्यवस्था, मरीज को शुद्ध पेयजल की व्यवस्था, अस्पताल परिसर सहित शौचालय की साफ- सफाई, पर्याप्त मात्रा में रौशनी की व्यवस्था, सभी प्रकार की जांच व्यवस्था व दवा की स्थिति ठीक रखने सहित अन्य समस्या को एक स्पताह में दुरुस्त करने का निर्देश दिया। इसके अलावा रात्री में कितने मरीज आये कितने भर्ती किये गये। दवा की क्या व्यवस्था थी। जांच कितने प्रकार के हर रोज हो रहे हैं। डाक्टर कितने मरीज देख रहे हैं। इसकी पूरी जानकारी अगले स्पताह की बैठक में लाने का निर्देश दिया है।

*बैठक में थे अधिकारी:* बैठक में सिविल सर्जन डा. बी के सिंह, अधीक्षक डा. के एन गुप्ता,एसीएमओ प्रभारी डा. शकुंतला सिंह, जिला मलेरिया पदाधिकारी डा. परमेश्वर ओझा, डीआईओ डा. रविशंकर वर्मा, जिला स्वास्थ्य समिति के अनुश्रवण पदाधिकारी विनय कुमार, डीपीसी भारत भूषण, लेखा पदाधिकारी आशुतोष चौधरी, चिकित्सा प्रभारी डा. श्रवण कुमार, सदर अस्पताल प्रबंधक विजय झा सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *