सिटी कोतवाली सीधी टीआई पर महिला ने फिर लगाया अभद्रता एवं रिश्वत मांगने का आरोप

सिटी कोतवाली सीधी टीआई पर महिला ने फिर लगाया अभद्रता एवं रिश्वत मांगने का आरोप

क्या पैसे की भूख में जिला पुलिस को टीआई राघवेंद्र द्विवेदी दागदार बना रहे हैं

क्या सही खबर छापने वाले मीडियाकर्मियों को टीआई राघवेंद्र द्विवेदी द्वारा दी जाती है धमकियां

सिटी कोतवाली टीआई राघवेंद्र द्विवेदी रिपोर्ट लिखाने वालों को सीधे मां बहन की देते हैं गाली

नाबालिक बच्चो की माँ ने बेगुनाही के लिए खटखटाये पुलिस अधीक्षक सहित नगर कोतवाल के दरवाजे

नाबालिक बच्चो की माँ का आरोप बेगुनाह होने पर मिली बच्चो को चोरी की सजा

पांच में से एक को छोड़ चार नाबालिक बच्चो पर लगा चोरी का इल्जाम, 4 बच्चो के खिलाफ 3 दिन बाद हुआ मामला दर्ज

पूर्व मे भी टीआई सिटी कोतवाली पर महिला से अभद्रता करने और बच्चे खिलाने कि बात कहने का आरोप लग चुका है।

सवाल?-आखिर मेहरबानी पुलिस अधिक्षक सीधी की सिटी कोतवाली टीआई पर क्यो जब महिलाओ से अभद्रता, पैसे मॉगने के आरोप और पत्रकार कि पत्रकारिता पिछवाडे मे डालने कि बात कहते सुर्खियो मे हो।

सीधी— मध्यप्रदेश जिला सीधी के सिटी कोतवाली अंतर्गत नाबालिक बच्चों को रक्षाबंधन के 1 दिन पहले शनिवार के दिन पुलिस विस्तर पर लेटे बच्चो को घर से थाने उठा लाई। नाबालिक बच्चे रक्षाबंधन के त्यौहार पर बहन से दूर थाने मे रहे जिससे भाई के इंतजार में बहन के निकलते आंसू नही रूक रहे है । वही पीड़िता की माँ घरों में काम कर अपना गुजारा परिवार का करती है, नाबालिक बच्चो कि मॉ सिटी कोतवाली टी.आई राघवेंन्द्र द्विवेदी से अपने पुत्रो के आरोपी ना होने कि मिन्नतें करती रही परंतु थाना कोतवाली टीआई द्वारा नाबालिक की माँ से अभद्रता कर थाना से दुत्कार दिया गया।

पुलिस अधिक्षक सीधी से बेगुनाही के मॉग बाद, टीआई राघवेन्द्र पर लगे पैसे मॉगने का आरोप

नाबालिक बच्चो कि माँ द्वारा अपने पुत्र के बेगुनाही के लिए पुलिस अधीक्षक सीधी को लिखित ज्ञापन दे छोड़ने की मांग की वही पुलिस अधीक्षक के कहने पर पीड़िता वापस थाने आई और पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाने की बात कह छोड़ने की मन्नते की परंतु सिटी कोतवाली टीआई द्वारा पीड़िता का पुलिस अधीक्षक के पास जाना ना गवारा गुजरा।

नाबालिक बच्चो कि मॉ ने आरोप लगाया है टीआई सिटी कोतवाली द्वारा मुझसे अभद्र बातें की गई और पॉच-पॉच हजार रूपये की मांग करते हुए पुत्र को छोड़ने की बात कहीं

वही पूर्व के दिनों में सीधी ज्वेलरी शॉप में हुई चोरी कि सी.सी.टीवी फुटेज के बाद नाबालिग बच्चियों को पुलिस ने नाबालिक का हवाला देते हुए छोड़ दिया था परंतु बीते 4 दिनों पहले 5 नाबालिग बच्चों में 4 को गिरफ्तार कर एक बच्चे को पुलिस ने रात में ही क्यों छोड़ा पीड़िता द्वारा नगर निरीक्षक कोतवाल पर तानाशाही का आरोप लगाया वही सोच का विषय यह है कि प्रदेश में महिलाओं के सम्मान की बात हर एक राजनीतिक पार्टियां करती हैं वही गरीब पीड़ित महिला अपने पुत्र की बेगुनाही के लिए दर दर भटकती रही न्याय के आसार में बच्चों के खिलाफ मामला दर्ज कर बाल न्यायालय भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *