जंगली छोटे हाथी की संदिग्ध मौत पर वन विभाग की लापरवाही आई सामने

जंगली छोटे हाथी की संदिग्ध मौत पर वन विभाग की लापरवाही आई सामने

क्या जंगली छोटे हाथी को जहरीला पदार्थ खिलाने से हुई मौत..?

क्या गणेश विसर्जन के दिन ही जंगली छोटे हाथी को जहरीला पदार्थ खिलाया गया..?

जंगली छोटे हाथी के सुरक्षा में वन विभाग की बड़ी चूक वन विभाग के बड़े अधिकारियों पर कब होगी कार्यवाही

विभागीय लापरवाही के चलते मौत का अंदेशा

जंगली छोटे हाथी के पीएम के समय पर मीडिया को वन विभाग की टीम आखिर क्यों रोकना चाहती थी

मध्य प्रदेश जिला सीधी विगत माह से सीधी जिले के जंगलों में आए छत्तीसगढ़ के जंगली हाथियों के उत्पात ने जहां आमजन में आतंक मचा रखा था जिसमें एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी l जिसके उपरांत वन विभाग ने जंगली हाथियों को पकड़ने का एक बड़ा अभियान चलाया और इन पांचों जंगली हाथियों को रेस्क्यू कारके पकड़ लिया गया था जिसमें से चार जंगली हाथियों को बांधवगढ़ शिफ्ट कर दिया गया था और गत शनिवार को हाथी के एक बच्चे को ट्रक के द्वारा बांधवगढ़ शिफ्ट किया जाना था परंतु ट्रक में खराब हो जाने के कारण शनिवार को उसे शिफ्ट नहीं कराया जा सका पर जब रविवार को सुबह इस शिफ्टिंग के लिए वन विभाग के कर्मचारी पहुंचे वहां हाथी का बच्चा मृत पाया गया जिसके बाद से वन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है उल्लेखनीय है कि जंगली हाथियों को रेस्क्यू के बाद मझौली वन विभाग के जंगल में जंजीरों से उनके पैरों को बांध कर रखा गया साथ में वन विभाग ने अपने 6 वन कर्मियों को इन साथियों की देखने के लिए भोलेनाथ किया गया था परंतु इन वन कर्मियों की लापरवाही का नतीजा रहा कि रात को वहां जंजीरों से बंधे जंगली हाथियों की कोई भी चौकीदारी नहीं करते थे परिणाम स्वरूप 5 में से चार जंगली हाथियों को तो बांधवगढ़ भेज दिया गया पर पांचवा और छोटा हाथी जो अकेला जंगल में जंजीरों से बंधा था उसकी सुरक्षा के आभाव के चलते शनिवार रविवार की दरमियानी रात उस की संदिग्ध मौत हो गई l छोटे हाथी की मौत पर मचे हड़कंप के दौरान जहां वन कर्मियों की लापरवाही पर उंगली उठाई जा रही है वहीं या भी आशंका जताई जा रही है कि इस हाथी को किसी जंगली जीव जंतु लापरवाही पर उंगली उठाई जा रही है वहीं या भी आशंका जताई जा रही है कि इस हाथी को जहरीला पदार्थ दिए जाने से छोटे हाथी की मृत्यु होने की आशंका है ऐसे में वन विभाग के अधिकारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है आखिरकार गणेश विसर्जन के दिन ही छोटे हाथी की मृत्यु होना वन विभाग पर बड़ा सवालिया निशान खड़ा करता है आखिर वन विभाग के बड़े अधिकारियों की चूक के कारण छोटे हाथी की सुरक्षा ना कर पाना बड़ी चूक मानी जा रही है जंगली हाथियों के नाम पर करोड़ों रुपए वन विभाग के अधिकारी डकार गए हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *