डोल ग्राम पंचायत में अवैध उत्खनन एवं परिवहन के आगे नतमस्तक खनिज विभाग एवं जिला प्रशासन

डोल ग्राम पंचायत में अवैध उत्खनन एवं परिवहन के आगे नतमस्तक खनिज विभाग एवं जिला प्रशासन

डोल रेत खदान के संचालक वर्तमान सरपंच कैसे बने करोड़ों के मालिक

क्या डोल सरपंच रेत की काली कमाई से बनवाई है आलीशान कोठी

क्या सीधी जिले में रेत की काली कमाई से कई अफसर सहित जनप्रतिनिधि हुए मालामाल

मध्य प्रदेश जिला सीधी जी हां हम बात कर रहे हैं ग्राम पंचायत डोल में रेत खदान स्वीकृत की गई है लेकिन आपको बताते चलें डोल रेत खदान के संचालक द्वारा एनजीटी के नियमों का खुला उल्लंघन किया जा रहा है रेत उत्खनन में जेसीबी मशीनों का उपयोग किया जा रहा है एवं काली कमाई करने में मशगूल हैं डोल सरपंच जबकि डोल सरपंच करोड़ों का मकान हाल ही में निर्माण किया है अवैध रेत उत्खनन के पैसे से ही यह घर बनाया गया है ऐसे में क्या ऐसे भ्रष्ट जनप्रतिनिधियों की सीबीआई जांच होनी चाहिए जबकि जिन ग्राम पंचायतों में रेत की खदानें स्वीकृत नहीं है ग्राम पंचायत के सरपंच ओं के पास मोटरसाइकिल तक चढ़ने के लिए नहीं उपलब्ध है ढोल सरपंच तो फोर व्हीलर गाड़ी से बकायदा चलते हैं घर सरपंच साहबान का देखा जाए तो किसी राजा महाराजा से कम भी नहीं है ऐसे में लोकायुक्त आयकर विभाग की नजरों से कौन बचा रहा है सरपंच साहबान को आपको बताते चलें कि अगले समाचार में सरपंच साहबान का पुराना घर और नई कोठी भी दिखाने का प्रयास स्वतंत्र इंडिया लाइव सेवन करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *