समस्त क्षेत्रवासियों ने प्रशासन को किया आगाह राम मंदिर सोनवर्षा का अगर एक सप्ताह के अंदर नही हुआ मूर्ति प्रतिष्ठा मंदिर जीर्णोद्धार तो होगा उग्र आंदोलन चक्का जाम

समस्त क्षेत्रवासियों ने प्रशासन को किया आगाह राम मंदिर सोनवर्षा का अगर एक सप्ताह के अंदर नही हुआ मूर्ति प्रतिष्ठा मंदिर जीर्णोद्धार तो होगा उग्र आंदोलन चक्का जाम

मध्य प्रदेश जिला सीधी जी हां हम बात कर रहे हैं मझौली विकासखंड के मड़वास अंतर्गत सोनबरसा राम मंदिर की मालूम हो कि जिला मुख्यालय से महज 40 किलोमीटर दूर स्थित सोनवर्षा मड़वास में राम जानकी की बड़ी ही भव्य मंदिर स्थित है जो कि वर्तमान में अत्यंत ही जर्जर एवं देव विहीन है। यह मंदिर लक्ष्मण बाग ट्रस्ट संरक्षक रीवा कलेक्टर सह संरक्षक सीधी कलेक्टर के अधीन जो कि प्रशासनिक मंदिर है।क्षेत्र वासियों द्वारा बताया जाता है कि यह मंदिर 200 वर्ष पुरानी है मंदिर के अधीनस्थ 135 एकड़ भूमि है। जिसकी लीज रीवा कलेक्टर के संरक्षण मे दी जाती है प्रतिवर्ष 20000 से 300000 लीज होती है।
संपत्ति सरकार के खजाने मे जमा होती है राम जानकी मंदिर खुद संपत्ति से युक्त है फिर भी मंदिर की इस तरह की दयनीय स्थिति प्रशासन की कही न कही बड़ी लापरवाही है प्रशासनिक व्यवस्था पर बड़ा सवाल उठता है राम जानकी मंदिर मे दिनांक 1/8/2009 मे चोरो के द्वारा अष्टधातु वेश कीमती माता जानकी कुमर लक्ष्मण की मूर्ति की चोरी हो गई है जिसकी शिकायत पुलिस चौकी मड़वास मे मंदिर के पुजारी एवं ग्राम वासियों के द्वारा किया गया था जिसमें चौकी प्रभारी द्वारा मंदिर की जांच उपरांत मंदिर शेष मूर्ति अष्टधातु बेशकीमती राम लला की मूर्ति एवं समस्त पूजा पाठ कि सामग्री सहित चौकी प्रभारी मड़वास के द्वारा जप्त कर श्री कृष्णदेव सिंह (राजा साहब) मड़वास के सुपुर्दगी मे रखवाई गई है दिनांक 01/08/2009 से आज तक मंदिर मे मूर्ति विराजमान नही कराया गया वर्तमान मे देव विहीन मंदिर अत्यंत ही दयनीय स्थिति से गुजर रहा है पूर्व मे हिंदू संगठनो ग्राम वासियों के द्वारा पुलिस अधीक्षक सीधी को एवं रीवा कलेक्टर सीधी कलेक्टर एवं उपखंड अधिकारी तहसीलदार मझौली को भी कई बार ज्ञापन सौंप जीर्णोद्धार की की गई मांग लेकिन आज दिनांक तक किसी प्रकार की भी प्रशासनिक पहल नही की गई जिससे आज क्षेत्रवासियों के द्वारा एक बड़ी बैठक की गई जिसका मार्गदर्शन राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवमूरत देव जी महाराज (सुदामा जी) के द्वारा किया गया पूज्य श्री का कहना है अगर प्रशासन का यही रवैया रहा तो मजबूत हो कर जनता उग्र आंदोलन चक्काजाम करेगी जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन की होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *